You are here: Homeक्राईम

Crime (12)

मुंबई (25 जनवरी): 70 साल की एक महिला को हाउस टैक्स न चुकाना उस वक्त महंगा पड़ गया जब नगर निगम के कर्चारियों ने उसे घर में ही सील कर दिया। पूरा मामला मुंबई के विरार इलाके का है। यहां नगर निगम का एक फ्लैट पर 7675 रुपये के हाउस टैक्स बाकी था। इस टैक्स की वसूली के लिए वसई-विरार म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन के दो कॉन्ट्रैक्ट वर्कर पहुंचे और उन्होंने गेट को बाहर से सील कर दिया।

 

बाद में जब पड़ोसियों ने आपत्ति दर्ज कराई तब तक म्युनिसिपल के कर्मचारियों ने इसका सील खोला। दरअसल महिला अपने बेटी और दामद के घर आई हुई थी। और घटना के वक्त उसके बेटी-दमामा काम पर गए हुए थे।

पटना(14 जनवरी): बिहार में अपराधियों को कानून का डर खत्म हो गया। तभी तो आए दिन किसी ना किसी की गोली मारकर हत्या कर दी जाती है। ताजा मामला है राजधानी पटना का। पटना के फुलवारीशरीफ इलाके में सब-इंसपेक्टर के बेटे की गोली मार कर हत्या कर दी गई है

 

 

 

शामली(13 जनवरी): शामली जनपद के कांधला कस्बे से पुलिस ने छापेमारी करके एक घर अवैध तमंचा फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया है।

 

- पुलिस ने 203 पिस्टल और राइफल बरामद किया है। यहां एक युवक पुलिस के हत्थे चढ़ गया, जिसे गिरफ्तार कर लिया गया।

 

- गिरफ्तार आरोपी युवक पहले भी जेल जा चुका है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है, वहीं इस मामले में आरोपी के पिता की भी तलाश की जा रही है।

 

- प्रदेश में चुनाव की घोषणा होते ही अवैध हथियारों का कारोबार जोर पकड़ता है। पुलिस अधिकारी सीओ भूषण वर्मा का कहना है कि शामली जनपद की कांधला पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर क़स्बा कांधला में कल्लू के घर में छापा मारा, जहां से पुलिस ने शेर खान नाम के व्यक्ति को पकड़ लिया।

 

 

 

 

नई दिल्ली (9 जनवरी): क्या ओमपुरी की मौत सामान्य हालात में नहीं हुई थी, क्या उनकी हत्या की गई थी, अगर हत्या की गयी थी तो कौन था हत्यारा और क्या था मकसद ये ढेर सारे सवाल अब औशिवारा पुलिस के जहन में घूम रहे हैं।

 

 

दरअसल ये सारे सवाल ओम पुरी की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आने के बाद खड़े हुए है। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के अनुसार, उनके सिर में चोट के निशान, कॉलर बोन और लेफ्ट आर्म पर हेयरलाइन फ्रैक्चर था। इससे पहले ओम पुरी की सामान्य मौत को लेकर कई लोगों ने आशंका भी जताई थी।

 

 

ओम पुरी शुक्रवार को अपने घर में मृत पाए गए थे और दिल का दौरा पड़ना उनकी मौत का कारण बताया जा रहा था। ओशिवारा पुलिस सूत्रों के अनुसार, ओम पुरी की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट पुलिस को प्राप्त हो चुकी है।

 

 

 रिपोर्ट के मुताबिक, पुरी के सिर के ऊपरी हिस्से में डेढ़ इंच गहरा और 4 सेंटीमीटर लंबा जख्म था। सिर में कई जगह क्लॉटिंग थी। कॉलर बोन और लेफ्ट अपर आर्म पर हेयरलाइन फ्रैक्चर था। इस बाबत ओशिवारा थाने के सीनियर इंस्पेक्टर सुभाष खानविलकर ने कहा,'हम हर ऐंगल से मामले की जांच कर रहे हैं।

 

 

 

पुरी जिस बिल्डिंग में रहते थे, वहां का विजिटर्स रजिस्टर और सीसीटीवी कैमरे जब्त किए हैं। मौत से पहले आखिरी 24 घंटे में वह जिन लोगों से मिले थे, उनसे भी पूछताछ की जा रही है। उनके करीबी सूत्र ने बताया था कि ओम पुरी 5 जनवरी की दोपहर से देर रात तक लगातार शराब पी रहे थे,

 

 

वह बार-बार अपने पारिवारिक और कोर्ट-कचहरी के मसलों को लेकर परेशान हो रहे थे। दोपहर से लेकर देर रात तक उनकी रिलीज के लिए तैयार फिल्म 'रामभजन जिंदाबाद' की टीम भी उनके साथ थी।

 

 

 

कानपुर(6 जनवरी): दिल्ली से हावड़ा जा रही 12302 राजधानी एक्सप्रेस के बी-7 कोच में बीएसएफ जवान पर महिला से छेड़छाड़ का आरोप लगा है।

 

 

अलीगढ़ के पास हुई इस घटना की एफआईआर कानपुर सेंट्रल के जीआरपी थाने में लिखी गई। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया।

 

 

- जीआरपी के अनुसार, झज्जर (हरियाणा) का रहने वाला BSF जवान सुरेंद्र यादव गुरुवार को राजधानी एक्सप्रेस से ड्यूटी पर कोलकाता जा रहा था।

 

 

- आरोप है कि बी-7 कोच में सीट नंबर-6 पर उसने एक महिला से अलीगढ़ के पास अश्लील हरकतें की।

 

- महिला के हंगामे पर टीटीई और ट्रेन एस्कॉर्ट ने कानपुर स्टेशन पर सूचना दी। दोपहर बाद ट्रेन स्टेशन पर पहुंची तो आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

 

 

 

नई दिल्ली (29 दिसंबर):  बिहार की राजधानी पटना में एसकेपुरी पुलिस ने पानी टंकी के पास चेकिंग के दौरान एक कार से तीन बोतल अंग्रेजी शराब के साथ सवार दो युवक और एक युवती को गिरफ्तार किया है।

 

पूछताछ में मालूम हुआ कि युवती कार में सवार एक युवक की बहन है। पुलिस को चकमा देने के लिए कार में उसे सवार किया, ताकि परिवार देख पुलिस कार की चेकिंग न करे और शराब ठिकाने तक पहुंच जाए।

 

प्रकाश पर्व को लेकर पूरे शहर में पुलिस सघन चेकिंग कर रही है। इसी क्रम में एसकेपुरी पुलिस चिल्ड्रेन पार्क, पानी टंकी सहित अन्य स्थानों पर चार पहिया और दो पहिया वाहनों की सघन चेकिंग कर रही थी।

 

पुलिस की एक टीम कार में सवार धनबाद निवासी राज, वैशाली के जनदाहा निवासी मनीष कुमार और लड़की से पूछताछ कर रही थी।

 

इसी बीच पुलिस की दूसरी टीम सीट के नीचे और कार की डिक्की की तलाशी लेने लगी। सीट के नीचे तीन बोतल अंग्रेजी शराब मिली। बोतल पर पश्चिम बंगाल की मुहर लगी थी।

 

पूछताछ में राज ने बताया कि लड़की उसकी बहन है। अभी सभी शास्त्रीनगर के एजी कॉलोनी में रहते हैं। पुलिस ने भाई, बहन और दोस्त को गिरफ्तार

 

कटनी के खनन कारोबारी की पत्नी बीते 22 दिसंबर को जबलपुर के इसी समदड़िया मॉल में खरीदारी करने पहुंची थी। साथ में दो बेटे और ड्राइवर भी था। महिला बच्चों के साथ मॉल में गई, लेकिन काफी देर तक बाहर नहीं आई। ड्राइवर ने कॉल किया, तो मोबाइल स्विच ऑफ था। बच्चे लापता थे, मैडम गुमशुदा थीं। ड्राइवर ने घरवालों को इत्तला दी। इसके बाद महिला की सास ने थाने में गुमशुदगी की एफआईआर दर्ज करवाया।

मॉल से बच्चों के साथ महिला गायब हो गई थी। हाईप्रोफाइल मामला था। इसलिए पुलिस के हाथ पांव फूल रहे थे। पुलिस ने मॉल और एयरपोर्ट की सीसीटीवी खंगाली। मॉल के सीसीटीवी में महिला बाहर निकलती हुई दिख रही थी। वहीं एयरपोर्ट में उसके साथ एक शख्स और था। इसके बाद बाद पुलिस ने महिला के मोबाइल लोकेशन की

जांच की और फिर गुजरात के भावनगर पहुंच गई। यहां महिला एक होटल में अपने प्रेमी के साथ मिली। गुजरात पहुंचने के बाद महिला ने अपने ससुर के नाम 10 पेज की एक चिट्ठी भेजी थी। लेटर में महिला ने लिखा था, ''आपका बेटा मुझे प्रताड़ित करता है। आपके बेटे की गलतियों से मेरा पांच बार अबॉर्शन हुआ। आपका बेटा शराब पीता है। वो कॉलगर्ल के पास जाता है। मेरे सामने खुदकुशी या घर से भागने के अलावा कोई दूसरा रास्ता नहीं था।''

पुलिस के मुताबिक भागने के बाद महिला अपने लोकेशन बदलती रही। वो पहले भोपाल गई। फिर दिल्ली रवाना हो गई और फिर यहां से गुजरात पहुंच गई। बताया जाता है कि महिला और कटनी के रहने वाले आशीष कोटवानी एक-दूसरे से मोहब्बत करते थे। दोनों ने साथ जीने मरने की कसमें खा ली थीं। यही वजह है कि महिला आशीष

के साथ गुजरात के भावनगर पहुंच गई। यहां दोनों बच्चों के साथ जिंदगी बसर करना चाहते थे। इसके लिए दोनों ने 13 लाख रुपए का एक फ्लैट भी खरीद लिया था। लेकिन अब इस लापता मिस्ट्री का खुलासा हो चुका है।

 

 

औरंगाबाद।। बिहार में एक बार फिर नक्‍सली ने बड़े पैमाने पर हमले को अंजाम दिया है। जानकारी के अनुसार, नक्‍सलियों ने अब औरंगाबाद में हमले को अंजाम दिया है। इस हमले में सात लोगों के मारे जाने की खबर है।

 

बताया जा रहा है कि मरने वालों में जिला पार्षद का पति भी शामिल है। घटना की सूचना मिलने के बाद पुलिस मौकास्‍थल पर पहुंच गई है। सूत्रों ने बताया कि नक्‍सलियों ने केन बम के जरिये इस हमले को अंजाम दिया।

 

अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक रविंद्र कुमार ने कहा कि यहां से 120 किलोमीटर दूर औरंगाबाद जिले के ओबरा थाना के पिसाई गांव में यह घटना घटी।

 

उन्होंने यहां संवाददाताओं को बताया कि इस विस्फोट में जिला परिषद की एक सदस्या के पति सुशील पांडे सहित सात लोग मारे गए। बारूदी सुरंग नक्सलियों ने बिछाई थी।

 

जिला पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि पांडे नक्सलियों की हिट लिस्ट में थे और उन्हें जान से मारने की धमकी दी गई थी।

 

रविंद्र कुमार ने कहा कि मामले की जांच करने के लिए वरिष्ठ अधिकारी गांव गए हैं। उन्होंने कहा कि पुलिस ने औरंगाबाद में नक्सलियों की धर-पकड़ के लिए छापामारी अभियान तेज कर दिया है। औरंगाबाद को नक्सलियों का गढ़ माना जाता है।

नई दिल्ली।। सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली के कुख्यात तंदूर कांड में अपना फ़ैसला सुनाया। जुलाई 1995 के इस मामले में पूर्व यूथ कांग्रेस के नेता सुशील कुमार शर्मा को अपनी पत्नी नैना साहनी की हत्या का दोषी पाया गया था।

 

कोर्ट ने निचली अदालत और फिर हाईकोर्ट से मिली फांसी की सजा को उम्रकैद में तब्दील कर दिया है। सुशील शर्मा को जीवन भर अब जेल में रहना होगा।

 

शर्मा को ट्रायल कोर्ट ओर हाई कोर्ट से फ़ासी की सज़ा मिली थी जिसके खिलाफ़ उन्होंने सुप्रीम कोर्ट में अपील दायर की थी।

 

साल 1995 में बगिया रेस्टोरेंट के तंदूर में एक शव जलाने की कोशिश हुई थी। तब इस घटना की सुर्खियां पूरे देश में गूंजी और इसे 'तंदूर कांड' कहा गया। अब 18 साल बाद इस मामले में एक आख़िरी फ़ैसला आना है।

 

गढ़चिरौली।। महाराष्ट्र के गढ़चिरौली जिले में नक्सली हमले में तीन पुलिस कमांडो शहीद हो गए हैं।

 

बीती रात सी−60 पुलिस कमांडो की पेट्रोलिंग टीम पर नक्सलियों ने लैंडमाइन ब्लास्ट किया, जिसमें तीन कमांडो शहीद हो गए, जबकि चार कमांडो बुरी तरह घायल हुए हैं।

 

सभी घायल पुलिस कमांडो को गढ़चिरौली के अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

 

पुलिस कमांडो की टीम पर यह हमला धनौरा तहसील के कोटसूर्या जंगल में हुआ।

 

 

फोटो गैलरी

Market Data

एडिटर ओपेनियन

IPL की साख पर सवाल गलत: श्रीनिवासन

IPL की साख पर स...

नई दिल्ली।। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड...

अरुणाचल की तीरंदाजों को चीन ने दिया नत्थी वीजा!

अरुणाचल की तीरं...

नई दिल्ली।। अरुणाचल प्रदेश की दो नाबालिग...

Video of the Day

Right Advt

Contact Us

  • Address: Sareya, Wad No.13  Dist, Gopalganj, Bihar, Pin.no. 841428
  • Mob: +(91) 8987371243
  • Fax: +(91) 9304885545
  • Email:  This email address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it.
  • Website: http://biharleadindia.com/

About Us

Bihar Lead India is one of the renowned online news portal in print and web media. It has earned appreciation from various eminent media personalities and readers. ‘Bihar Lead India’  editor in chief is Mr Brijesh Kumar Singh.